Sebi Full Form क्या है. जाने पूरी जानकारी

0
28
Sebi Full Form

आज के इस पोस्ट में हम बात करने वाले है Sebi Full Form क्या है और सेबी फाइनेंशियल नियम कैसे कार्य करता है तथा इनके के पास क्या शक्ति होता है इन सब के बारे में.

Sebi Full Form क्या है.

सेबी के फुल फॉर्म कि बात करे तो सेबी का अर्थ हिंदी में “भारतीय प्रतिभूति और विनिमय बोर्ड” होता है और इंग्लिश में इसे Securities and Exchange Board of India कहते है.

Sebi Full Form डिटेल में.

  • S – Securities
  • E- Exchange
  • B – Board
  • I – India

1970 के अंत से इंडिया में कैपिटल मार्केट एक नए सेंसेशन की तरह उभरकर आया है हलाकि स्टॉक पापुलैरिटी के साथ साथ-साथ बहुत सारी करप्ट एक्टिविटी भी बढ़ने लगी जैसे प्राइस फिक्सिंग, अनऑफिशियल प्राइवेट प्लेसमेंट, इनसाइडर ट्रेडिंग, वायलेंसन ऑफ स्टॉक एक्सचेंगिंग रूल्स एंड रेगुलेशंस आदि.

तो इन्ही परिस्तिथि को देखते हुए सरकार ने यह महसूस किया कि इन करफ्ट एक्टिविटीज को कम करने के लिए और इंडियन स्टॉक मार्केट को रेगुलेट करने के लिए ताकि भारत के लोगों का स्टॉक मार्केट विश्वास बना रहे. भारत में लगभग इस समय 23 स्टॉक एक्सचेंज ओपरेट कर रहे है. इनमे NSE और BSE भी शामिल है. इन सभी स्टॉक एक्सचेन्ज के कार्य को सेबी के गाइडलाइन द्वारा नियंत्रित किया जाता है.

सेबी कि स्थपाना हुवा कब हुवा.?

भारत में शेयर बाज़ार और उससे संबंधित लोगो और संस्था पर नजर रखने नियंत्रण करने के लिए सेबी अधिनियम 1992 के तहत 12 अप्रैल 1992 को भारतीय प्रतिभूति और विनिमय बोर्ड याने कि सेबी कि स्थपाना हुवा था. 12 अप्रैल 1992 को भारतीय प्रतिभूति और विनिमय बोर्ड याने कि सेबी कि स्थपाना हुवा था. जिसे Sebi Act1992 के तहत वैधानिक दर्ज़ा प्राप्त एक गैर वैधानिक संगठन के रूप में स्थापित किया गया है. यह एक स्वायत्त संस्था होने के कारण इसे सरकार से अनुमति लेने कि जरुरत नहीं होता.

Sebi Full Form

सेबी के अधिकार क्या है. Sebi Full Form

  • सेबी के पास अधिकार होता है कि वे स्टॉक एक्सचेंज पर होने वाले नुकसान का आकलन कर उसपे नियंत्रण करना.
  • सेबी भारत में स्थित स्टॉक एक्सचेंज, कामर्सियल बैंक, स्टॉक ब्रोकर, इन्वेस्टमेंट बैंक आदि के अकाउंट से जुड़े रिकॉर्ड कि जांच कर सकता है.
  • सेबी कोई भी कंपनी को किसी भी स्टॉक एक्सचेंज में लिस्ट होने से रोक सकता है.
  • सेबी के पास यह भी अधिकार होता है कि वो स्टॉक ब्रोकर के रजिस्ट्रेशन को नियंत्रण कर सकता है.

सेबी के कार्यालय कहा पर स्थित है.

सेबी का मुख्य कार्यालय बांद्रा कुर्ला परिसर मुंबई में स्थित है और इसके क्षेत्रीय कार्यालय कोलकाता, दिल्लीि, चेन्नई और अहमदाबाद में उत्तरी, पूर्वी, दक्षिणी व पश्चिमी परिसर व अन्य छोटे छोटे जगहों पर मौजूद है.

Sebi के अध्यक्ष कौन है और कैसे चुना जाता है.?

Sebi के मुख्य अध्यक्ष के रूप में माधबी पुरी बुच 28 फरवरी 2022 से सम्हाल रहे है. सेबी में एक अध्यक्ष है और 8 बोर्ड मेंबर होते है. सेबी के अध्यक्ष को केंद्र सरकार द्वारा चुना जाता है. बाकी के 8 बोर्ड मेम्बरों में से 2 मेंबर को यूनियन फाइनेंस मिनिस्ट्री चयन करता है. साथ ही एक सदस्य को RBI द्वारा चुना जाता है. बाकी बचे 5 मेंबर को यूनियन गवर्नमेंट द्वारा चुना जाता है.

सेबी के प्रमुख कार्य क्या है.

  • स्टॉक मार्किट (सेक्योरिटीज मार्केट) के बाजार को विकसित करना और निवेसको के हितो का संरक्षण करना
  • स्टॉक एक्सचेंजो जैसे NSE, BSE, MCX तथा और भी अन्य प्रतिभूति बाजार के व्यवसाय का नियंत्रण करना.
  • स्टॉक ब्रोकर्स, सब-ब्रोकर्स, शेयर ट्रान्सफर एजेंट्स, ट्रस्टीज, मर्चेट बैंकर्स, अंडर-रायटर्स, पोर्टफोलियो मैनेजर जैसे कार्यो का नियंत्रण करना एवं उन्हें पंजीकृत करना.
  • म्यूचुअल फण्ड की सामूहिक निवेश योजनाओ को पंजीकरण करना तथा उनका रेगुलशन करना.
  • स्टॉक मार्केट से सम्बंधित गैर जरुरी व्यापार व्यवहारों (Unfair Trade Practices) को समाप्त करना.
  • प्रतिभूति बाजार से जुड़े लोगों को करना तथा निवेशकों की शिक्षा को प्रोत्साहित करना.
  • इनसाइड ट्रेडिंग को रोकना.
  • Read More – TFW full form क्या है, TWF से जुडी सारी जानकारी

अंतिम शब्द – Sebi Full Form के बारे में

आशा करता हु आपको Sebi Full Form क्या है और उससे जुडी जानकारी के बारे में पढ़ कर आपको अच्छा लगा होगा. आशा है आपको यह पोस्ट पसंद आया हो अगर आपके पास इस पोर्टल से जुड़े कुछ सवाल हो सुझाव रतो तो हमें कमेंट कर जरुर बताये साथ ही इस पोस्ट को शेयर करना ना भूले.

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here