Dosti Shayari | दोस्ती शायरी 2023 | Dost Ke Liye Shayari

0
61
Dosti shayari
Dosti shayari

वैसे लोग आजकल सबसे ज्यादा Dosti Shayari सर्च करते हैं. लेकिन आपको बता दें कि यह महज एक इत्तेफाक है क्योंकि ऐसे लोग सबसे ज्यादा अपने दोस्तों को ही याद करते हैं. असल में दोस्ती भगवान का दिया हुआ नायाब तोहफा है जिसकी कदर जो कर लेता है वो राजा बन जाता है और जो नहीं कर पाता वह रंक ही रह जाता है.

ऐसे में हम आपकी भावनाओं का खास ख्याल रखते हुए आपके लिए लाए हैं Dosti Shayari जिसे पढ़कर आप अपने स्टेटस मे रखकर अपने दोस्तों को याद कर सकते हैं. वैसे कुछ लोगों के लिए स्टेटस एक अपनी भावनाओं को व्यक्त करने का जरिया होता है.

Dosti Shayari

इन्हीं को देखते हुए हम आपके लिए लाए हैं कुछ ऐसे चुनिंदा Dosti Shayari जिसे आप अपने स्टेटस में रखकर अपने दोस्तों को याद कर सकते हैं और अपने दोस्तों को यह एहसास दिला सकते हैं कि हम आज भी आपके लिए कुछ भी कर सकते हैं यही हमारी दोस्ती है.

तेरी मेरी दोस्ती इतनी खास हो कि

दुनिया कहे काश ऐसा दोस्त मेरे पास हो.

सच्चे दोस्त कभी गिरने नहीं देते.

ना किसी की नजरों में, ना किसी के कदमों में.

फर्क तो अपनी अपनी सोच में है,

वरना दोस्ती भी मोहब्बत से कम नहीं होती.

दोस्तों की दोस्ती में कभी कोई रूल नहीं होता

और यह सिखाने के लिए कोई स्कूल नहीं होता

Dosti shayari
Dosti shayari

मैं अपनी दोस्ती को शहर में रुसवा नहीं करता

मोहब्बत भी मैं करता हूं मगर चर्चा नहीं करता

बड़े शहर में आकर जिंदगी चकमा दे गई

दोस्त ज्यादा बन गया दोस्ती फीकी पड़ गई

रिश्तो की दोस्ती खून के रिश्तो से बड़ी होती है

दोस्ती दिमाग से नहीं दिल से होता है

मगर सवाल दोस्ती का नहीं विश्वास का है

मेरे दोस्तों की पहचान इतनी मुश्किल नहीं

वह हंसना भूल जाते हैं मुझे रोता देखकर

एक चाहत होती है दोस्तों के साथ जीने की जनाब

वरना पता तो हमें भी है कि मरना अकेले ही है

वक्त की यारी तो हर कोई करता है मेरे दोस्त

मजा तो तब आता है जब वक्त बदल जाए पर यार ना बदले

Dosti shayari
Dosti shayari

अच्छी दोस्ती टूट जाने पर जिंदगी बिखर जाता है

लेकिन बुरी दोस्ती टूट जाने पर जिंदगी निकल जाता है

दुश्मनों से मोहब्बत होने लगी है मुझे

जैसे जैसे दोस्तों को आजमाता जा रहा हूं

अगर हर पल को दोस्तों से मिला जाये

तो पल पल जिंदगी का खुशनुमा हो जाए

यह दोस्ती का गणित है साहब

यहां दो में से एक गया तो कुछ नहीं बचता

प्यार का तो पता नहीं पर जिंदगी में

एक ऐसा दोस्त जरूर होना चाहिए जो हर मुश्किल में साथ दें

लोग हमें हमारी बस्ती से नहीं

बल्कि हमारी दोस्ती से पहचानते हैं

रिश्तो से बड़ी कोई चाह नहीं होती

और दोस्ती से बड़ी कोई बात नहीं होती

खूबियां मिलती है तो शादी होती है

मगर कमिया मिलती है तो दोस्ती होती है

दोस्त की गर्दन तक पहुंचने वाले हाथ, अक्सर गर्दन तक पहुंचने से पहले ही

पैरों में झुकते हैं और फिर सलाम ठोकते हैं

स्कूल के कमीने दोस्त चाहे ना हो साथ हमारे आजकल

याद आते हैं जिंदगी भर साथ उनके बीते हुए पल

बचपन के दिन भी क्या खूब थे

ना दोस्ती का मतलब पता था ना मतलब की दोस्ती थी

कुछ लोग कहते हैं दोस्ती बराबर वालों से करनी चाहिए

लेकिन हम कहते हैं दोस्ती में कोई बराबरी नहीं करनी चाहिए

Dosti shayari
Dosti shayari

धीमे क़दमों पर यूं मायूस ना हो दोस्त

पहाड़ कभी दौड़कर चढ़े नहीं जाते

तेरे हर एक दर्द का एहसास है मुझे, तेरी मेरी दोस्ती का बहुत नाज है मुझे.

कयामत तक ना बिछड़ेंगे हम दो दोस्त, कल से भी ज्यादा भरोसा आज है मुझे.

तुम मुझसे दोस्ती का मोल ना पूछना

तुम्हें किसने कहा कि पेड़ छांव बेचते हैं

हम बाकी सभी रिश्तो के साथ पैदा होते हैं

पर दोस्ती एक मात्र रिश्ता है जिसे हम खुद बनाते हैं

जब वक्त मेरा बुरा आया तो कमियां गिना रहे हैं

अब मेरे दोस्त मुझे दोस्ती का मतलब समझा रहे हैं

अच्छा वक्त से ज्यादा अच्छा दोस्त अजीज रखो

क्योंकि एक अच्छा दोस्त बुरे वक्त को भी अच्छा बना देता है

कितने कमाल की होती है ना दोस्ती

वजन होता है लेकिन बोझ नहीं

हम दोस्तों के होते बुरा टाइम नहीं आ सकता

अगर आ भी जाए तो हमारी दोस्ती के आगे टिक नहीं सकता

दोस्त साथ में हो तो रोने में भी शान है

दोस्त ना हो तो महफिल भी शमशान है

हर तरफ दोस्ती का मेला है

फिर भी हर आदमी अकेला है

बेशक दोस्त से फासला हो जाए

मगर उसकी दोस्ती से फासला कभी मत करना

मोहब्बत और दोस्ती में फर्क इतना ही है वर्षों बाद वह एक दूसरे से मिलते हैं

तो मोहब्बत नजर चुरा लेती है और दोस्ती गले लगा लेती है

मोहब्बत ने दोस्ती से 1 दिन पूछे लिया जब मैं यही हूं तो तेरा क्या काम है

तो दोस्ती ने मुस्कुराते हुए कहा जहां तू नाकाम है वहां मेरा ही का नाम है

दोस्ती रूह में उतरा हुआ रिश्ता है साहिब

मुलाकाते कम होने से दोस्ती कम नहीं होती

Dosti shayari
Dosti shayari

ना तुम दूर जाना ना हम दूर जायेंगे

अपने अपने हिस्से की दोस्ती निभाएंगे

दोस्ती हमेशा अनजान लोगों से होती है

जिसे हम जान जाते हैं उसे तो दुश्मनी हो जाती है

कितनी छोटी सी दुनिया है मेरी

मैं हूं और मेरा पागल दोस्त

उसने एक ही बार कहा दोस्त हूं मै

फिर मैंने कभी नहीं कहा कि व्यस्त हूं मैं

यह दीवार बडी मुश्किल से खड़ी होती है

कभी फुर्सत मिले तो पढ़ना किताब

किसी एक से होता है ना कि महफिल से होता है

दोस्त तो बहुत है दुनिया में

Dosti Shayari

जब हम पैदा होते हैं तो हमारे साथ बहुत से रिश्ते जुड़ जाते हैं लेकिन दोस्ती एक ऐसा रिश्ता है जिसे हम खुद बनाते हैं अब यहां दोस्ती सही बनता है या गलत यह हमारे ऊपर है. लेकिन आपको बता दें कि अगर दोस्ती सच्चा हो तो आपको राजा बनने से कोई नहीं रोक सकता.

Releted Search

  • beautiful dosti shayari
  • dosti attitude shayari
  • best dosti shayari
  • bachpan ki dosti shayari
  • best dosti shayari in hindi
  • best friend dosti shayari
  • dosti and love shayari
  • dosti bhari shayari
  • dosti achi shayari
  • best dosti shayari in urdu
  • best dosti shayari status
  • birthday dosti shayari

लेकिन अगर दोस्ती गलत हो तो आप राजा भी क्यों ना रहे आपको रंक बनने से कोई रोक नहीं सकता. चलिए दोस्तों हम चलते हैं आपको अपने Dosti Shayari की ओर अगर आपको यहां सभी स्टेटस पसंद है तो कृपया  इसे अपने दोस्तों के साथ शेयर करना ना भूले.

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here